Type Here to Get Search Results !

[Best 60+] Ruthe Hue Naraz Dost, Bf, Gf, Pyar Ko Manane Ki Shayari With Images -2021

0

 

Dost Ko Manane Ki Shayari: क्या आप गूगल पर अपने प्रिय dost,bf, gf ko manane ke liye shayari ढूंढ़ रहे हैं।

अगर आपका जवाब हां है तो आज हम आपके लिए लिए dost,bf, gf ko manane ki shayari लेकर आएं हैं।

अगर आप गूगल पर Ruthe hue naraz dost,bf, gf ko manane ki shayari, dost,bf, gf ko manane ke liye shayari with images सर्च कर रहे हैं तो आप हमारी शायरी को पढ़ सकते हैं

अगर आपको हमारी शायरी पसंद आती है तो आप इसे अपने सोशल मीडिया पर दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं।


Dost ko manane ke liye shayari

               इस जमाने मे कुछ हादसे ऐसे भी होते है,                                           

वो मरते तो नही है लेकिन वो बेजान होते हैं।

 

Is jamane mein kuchh hadse aise Bhi hote hain

Vo marte to nahin Hai Lekin vo Bejan hote Hain

Dost ko manane ke liye shayari



 

तारों में अकेले चांद जगमगाता है।

मुश्किलों में अकेले इंसान डगमगाता है।

काटों से मत घबराना मेरे दोस्त।

क्योंकि काटों में भी गुलाब मुस्कुराता है।

 

Taaron me akele chand jagmagata hai

Mushkilo me akele insaan dagmagata hai

Kaaton se mat ghabrana mere dost

Kyonki kaaton me bhi gulaab muskurata hai


friend ko manane ke liye shayari 

तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी रहेगी,

तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी रहेगी,

क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,

जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी रहेगी।

 

Tum khafa Ho Gaye to koi Khushi na rahegi

tumhare bina Jago mein Roshani na rahegi

Kya kahen kya gujregi is dil par

Jinda to rahenge per jindagi Na rahegi

friend ko manane ke liye shayari



 

आज खुद को भुलाने को जी कर रहा है,

बेवजह रूठ जाने को जी कर रहा है,

तुम्हे वक़्त शायद मिले मिले,

आज खुद को मनाने को जी कर रहा है।

 

Aaj khud Ko bulane Ko ji kar raha hai

Becajah ruth jaane ko ji kar raha hai

tumhen waqt Shayad mile Na mile

Aaj khud ko manane ko ji kar raha hai


 dost ko manane wali shayari

बिन बात के ही रूठने की आदत है,

किसी अपने की चाहत पाने की चाहत है,

आप खुश रहें, मेरा क्या है,

में तो आईना हूँ मुझे टूटने की आदत है।

 

Bin baat ke heroine ki aadat hai

Kisi Apne Ki Chahat pane Ki Chahat Hai

Aap Khush Hain Mera Kya Hai,

Main to aaina hun mujhe tutane ki aadat hai

dost ko manane wali shayari



 

इस कदर हम यार को मनाने निकले

उसकी चाहत के हम दिवाने निकले..

जब भी उसे दिल का हाल बताना चाहा

उसके होठों से वक़्त होने के बहाने निकले.

 

Is kadar ham yaar Ko manane nikale

Uski Chahat ke ham deewane nikale

Jab Bhi use Dil Ka hal batana chaha

Uske hothon se waqt na hone ke bahane nikale


 friend ko manane wali shayari

मेरे पास समय नहीं है उन लोगो के लिए,

जो मुझसे नफरत करते हैं,

मै तो व्यस्त हूँ उन लोगो के साथ,

जो मुझे प्यार करते हैं

 

Mere pass samay nahin Hai un logon ke liye,

Jo mujhse nafrat karte Hain!

Main to vyast hun logon ke sath,

Jo mujhe pyar karte Hain!

friend ko manane wali shayari



 

सौदा कुछ इसा करा तेरी यादा मेरी नींद गैल,

या तो दोनों आवै ना फेर कोए सा ना आता

 

Sauda kuch isa kara sa teri yaada ne meri neend gail,

Yaa to donon aave sa naa fer koye saa naa aata


ruthe ko manane ke liye shayari 

माफ करिए भोले जे किसे का दिल दुखाया हो..!

मेरी तो तू ख़ुशी भी उससे ते दे दियो

जिसकी आंख्या मेरी वजह ते पाणी आया हो!!

 

Maaf kariye bhole je kise ka dil dukhaya ho

Meri to khushi bhi usse te de diyo

Jiski aankhya ma meri vajah te paani aata ho

ruthe ko manane ke liye shayari



 

तू नाराज है मुलाकातों की हमें जरुरत नहीं?

 हमारे दिल में रहो इतना काफी है

 

Tu naraj Hai mulakat hogi hamen jarurat nahin

Hamare Dil mein raho itna kafi hai


ruthe hue dost ko manane ki shayar 

दिल खामोश तड़प रहे है

हम तुमसे एक अल्फाज के लिए,

तोड़ दो खामोशी हमें जिन्दा रखने के लिए!!

 

Dil Khamosh tadap rahi hai

Ham tumse ek Alfaaz ke Liye

Tod do khamoshi hamen Jinda rakhne ke liye

ruthe hue dost ko manane ki shayar



 

सब कुछ पा ;लिया है बस तुझे पाना बाकी।

सब कुछ है घर में बस तेरा आना बाकी है !!

 

Sab kuch Paa Liya Hai Bus tujhe pana baki

Sab kuchh hai ghar mein bas Tera aana baki hai


naraz dost ko manana shayari 

सारी उम्र करते रहे इंतज़ार तेरे रुठने का

कभी तो मौका दिया होता तूने मनाने का

उन्हें रूठने में वक़्त नहीं लगता

मेरे पास वक़्त नहीं मनाने को !!

 

Sari umra karte rahe intezar tere roothne ka

Kabhi to mauka diya hota tune manane ka

Unhen roothne mein waqt nahin lagta

Mere pass waqt nahin manane ko

naraz dost ko manana shayari



 

काश ये दिल बेजान होता

ना किसी के आने से धडकता

ना किसी के जाने पर तडपता !!

 

Kahan se Dil Bejan hota

Na kisi Ke aane se dhadakta

Na kisi Ke jaane per tadapta


 naraz dost ko manane ki shayari

देखा है जिंदगी मनाने को कुछ

इतने करीब से

लगने लगे हैं तमाम चेहरे अजीब से !!

 

Dekha Hai jindagi manane ko kuch

Itne Kareeb se

Lagne Lage Hain tamam chehre Ajeeb se

naraz dost ko manane ki shayari



 

वो रूठे तो सही हम मनाने का वादा करते है,

दिल तोडना है मेरा तो बेशक तोड़ दे वो

इस दिल के बिना भी हम उनको चाहने का वादा करते है

 

ruthe to Sahi ham manane Ka Vada karte hain

Dil Tod Na Hai Mera tu beshak Tod den vo

Is Dil Ke Bina Bhi ham unko chahane Ka Vada karte Hain


manane ki shayari 

शहर में वो मजा नही है क्योकि तेरी रुठने मनाने की सज़ा नही है

 

Shahar mein vah maja nahin Hai kyunki Teri ruthne manane Ki Saja nahin Hai

manane ki shayari



 

तुम हंसती हो मुझे हसाने के लिए,

तुम रोती हो मुझे रुलाने के लिए।

एक बार तो रुठ के देखो,

मर जाएंगे तुम्हे मनाने के लिए।।

 

Tum Hasti Ho mujhe hasane ke liye

Tum roti ho mujhe rulane ke liye

Ek bar to Ruth Ke dekho

mar jaenge tumhe manane ke liye


 dost ko manane ki shayari

साँसे थम सी गई हैं तुम्हारे जाने से,

अब लौट भी आओ किसी बहाने से।

 

Saans tham si gayi Hai tumhare jaane se

Ab Laut bhi aao kisi bahane se

dost ko manane ki shayari



 

तुम रूठो तो तुम्हे मनाने जाएंगे

कई हम रूठे भी तो बताओ किस के भरोसे

 

Tum rutho to tumhen manane a jaenge

Kai ham ruthe Bhi to batao kis ke bharose


ruthe dost ko manane ki shayari 

ज़माने से रुठने की जरूरत ही क्यों हो

जब मेरे अपने ही मेरे बने रकीब हो

 

Jamane se Ruth nahin ki jarurat hai kyon Ho

Jab mere Apne hi mere Bane Rakib ho

ruthe dost ko manane ki shayari



 

दोस्त को रूठने पर

हमेशा मनाना चाहिए क्योंकि,

वो ही है जो हमारे सारे राज़ जानता है

 

dost ko ruthne par hamesha manana chahie kyunki vo hi hai jo hamare sare Raaj jaanta hai


naraz ko manane ki shayari 

नाकाम थीं मेरी सब कोशिशें उस को मनाने की पता नहीं कहां से सीखी जालिम ने अदाएं रूठ जाने की

 

nakam thi meri Sab koshishen usko manane ki

Pata nahin kahan se sikhi jaalim ne adayen Ruth jaane Ki

naraz ko manane ki shayari



 

रूठे हुये हो क्यों में मनाने को हु तैयार

कीमत बता दो मान जाने की में जिन्दगी लुटाने को हु तैयार

 

ruthe hue Ho kyon main manane ko hun taiyar

kimat Bata tu man jaane Ki Main jindagi lutane ko hun taiyar


ruthe ko manane wali shayari 

यूँ रहा रुठने-मनाने का सिलसिला तेरी बेरुखी भी अब वफ़ा लगती है !!

 

Yu Raha ruthne manane ka Silsila Teri berukhi bhi ab Wafa lagti

ruthe ko manane wali shayari



 

वो जो तेरी मुझको प्यार से मनाने की आदत है ,

सच कहूँ रूठने को बार बार मन करता है।

 

Vah Jo Teri mujhko pyar se manane Ki aadat hai na

Sach kahun ruthne ko bar bar man karta hai


gf  ko manane ki shayari

जिन लोगो को रिश्तों

की कदर होती हैं,

वह मानाने से मान

जाया करते हैं।

 

Jin logon Ko rishto ki kadar Hoti Hai vah manane se maan Jaaya karte Hain

gf  ko manane ki shayari



 

मेरे रूठने पे मनाता नहीं है,

खुद भी रूठ जाता है।

 

Mere ruthne pe manata nahin Hai khud bhi Ruth jata


girlfriend ko manane ki shayari 

रूठ जाने से पहले,

मेरी मोहब्बत को याद कर लेना,

गुसा कम ना हुआ तो,

दूर जा कर देख लेना,

तुझे मेरी मोहब्बत मेरे पास ले आएगी,

दूर जा कर मुझसे,

चैन से ना रह पाएगी

 

Ruth Jane se pahle meri Mohabbat ko yad kar lena

Gussa kam na hua to dur ja Kar dekh Lena

Tujhe meri Mohabbat mere pass le aaye gi

Dur jakar mujhse chain se Na rah payeegi

girlfriend ko manane ki shayari



 

छोटी छोटी बातों पे जो

रूठ जाते है,

सच कहते है दुनिया वाले,

वो बड़े बेरहम होते है

 

Chhoti chhoti baton per jo roooth jaate Hain

Sach kahate Hain duniya Wale vah bade bade beraham hote Hain


 bf ko manane ke liye shayari

रुक जा सनम,

यूँ रूठ के ना जा,

तुझे मेरी है कसम,

लौट के वापस ..

 

Ruk ja Sanam Yun rooth Ke Na ja

Tujhe meri Hai Kasam Laut Ke wapas aa

bf ko manane ke liye shayari



 

गलती की है तो माफ़ कर , मगर यूँ ना नजरअंदाज कर

 

Galti ki hai to maaf kar Magar yu na najarandaj kar


 ruthi hui gf ko manane ke liye shayari

नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे,

अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,

कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,

गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते।

 

Naraj kyon Ho hote Ho kis baat per Ho ruthe

Achcha chalo yah Mana Tum sacche ham hi jhuthe

Kab Tak chup aaoge Tum humse Ho pyar karte

Gusse ka hi bahana Dil mein Ho ham per marte

ruthi hui gf ko manane ke liye shayari



 

धड़कन बनके जो दिल में समा गए हैं,

हर एक पल उनकी याद में बिताते हैं,

आंसू निकल आये जब वो याद गए,

जान निकल जाती है जब वो रूठ जाते हैं

 

Dhadkan banke Jo Dil mein Sama gaye hain

Har ek pal unki yad mein batate hain

Aansu nikal aaye jab vah yad a gaye

Jaan nikal jati Hai jab woh rooth jaate Hain


 friend ko manane ki shayari

तुम हँसते हो मुझे हँसाने के लिए,

Tum रोते हो तो मुझे रुलाने के लिए,

तुम एक बार रूठ कर तो देखो,

मर जायेंगे तुम्हें मनाने के लिए !

 

Tum hanste ho mujhe hasane ke liye

Tum rote ho to mujhe rulane ke liye

Tum ek bar Ruth kar to dekho mar jaenge tumhen manane ke liye

friend ko manane ki shayari



 

उन्हें रूठने में वक़्त नहीं लगता

मेरे पास वक़्त नहीं मानाने को !

 

Unhen ruthne mein waqt nahin lagta

Mere paas waqt nahi manane ko


ruthe hue ko manane ki shayari 

खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो,

दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,

देर हो गयी याद करने में जरूर,

लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो !

 

Khata Ho gai to fir Saja suna do

Dil mein itna dard kyon Hai vajah bata do

Der ho gai yad karne mein jarur

Lekin tumko bhula denge yah khyal mita Do

ruthe hue ko manane ki shayari



 

नाराज़ करने वाले तेरी कोई खाता हि नही

मोहब्बत क्या होति है, शायद तुझे पता हि नही

 

naraz karne Wale Teri koi khata hi nahin

Mohabbat kya hoti hai Shayad tujhe pata hi nahin


ruthe ko manane ki shayari 

तुम्हारी नाराज़गी के दर से मैं जो हर बात माँ लेता हूँ

कभी तुम को महबूब समझ कर, कभी ख़ुद को मजबूर समझ कर

 

tumhare narajgi ke dar se main jo har baat man leta Hun kabhi tumko Mehboob samajh Kar kabhi khud Ko majbur samajh Kar

ruthe ko manane ki shayari



 

आप जब भी रूठते हैं हम मनाने चले आते हैं,

कदमों में आपके दुनिया हम लुटाने चले आते हैं।

 

Aap jab Bhi ruthte Hain ham manane chale aate hain,

Kadmon mein aapke duniya ham lutane chale aate Hain


ruthe pyar ko manane ki shayari 

यूँ मुझसे रूठ कर मिलने नहीं आना तेरा,

यकीनन ख़ुदा ने आज मेरी मौत लिखी है।

You mujhse Ruth kar milane nahin aana Tera

Yakinan khuda ne Aaj meri maut likhi Hai

ruthe pyar ko manane ki shayari



 

अपने दिल की सारी बातें तुम्हें खुल कर सुना दूंगा,

तुम रूठे तो हो पर ऐसे, तुम्हें मैं दो पल में मना लूंगा।

 

Apne dil ki sari baten tumhen khulkar Suna dunga

Tum ruthe to Ho per aise tumhen main Do pal Main Mana lunga


gf ko manane ke liye shayari 

रूठना उनका मेरा  मनाना  उन्हें ,

और फिर रूठ जाना मनाने के बाद |

आज देखा उन्हें एक ज़माने के बाद,

मुस्कुराने लगे ग़म जमाने के बाद

 

Ruthne unka Mera manana unhen

Aur FIR Ruth Jana manane ke bad

Aaj dekha unhe jamane ke bad

Muskurane Lage gam jamane ke bad

gf ko manane ke liye shayari



 

ज़माने से रुठने की जरूरत ही क्यों हो

जब मेरे अपने ही मेरे बने रकीब हो

 

Jamane se ruthne ki jarurat hi kyon Ho

Jab mere Apne hi mere Bane rakib Ho


boyfriend ko manane ke liye shayari 

उसकी हर गलती भूल  जाता हूँ जब वो मासूमियत से पूछती है नाराज है क्या ?

 

Uski har galti bhul jata hun jab vah masoomiyat se puchti Hai naraj ho kya

boyfriend ko manane ke liye shayari



 

मेरे दिल को जिसकी आदत थी उसी ने मेरा साथ निभाया वो मुझसे नाराज थी__और उसी ने मुझे गले लगाया_____!!

 

mere Dil Ko jiski aadat thi usi ne Mera saath nibhaya hua mujhse naraj thi____ aur usi ne mujhe gale lagaya


gf ko manane wali shayari image 

 तुम्हारी यादों की खुश्बू मेरे रोम रोम में समाई है,

अब आप ही बताओ की इसकी दवाई कौन सी है।

 

Tumhari yadon Ki Khushboo mere room room mein samaye hai

Ab aap hi batao ki iski dawai kaun si hai

gf ko manane wali shayari image



 

अगले जन्म में भी love हो,

तो सिर्फ तुमसे ही हो।

 

Agale janm mein bhi Love Ho

to Sirf tumse hi Ho


 kisi ko manane ke liye shayari

रूठना मत कभी हमें मनाना नहीं आता

दूर नहीं जाना हमें भुलाना नहीं आता

तुम भूल जाओ हमें तुम्हारी मर्जी

मगर हम क्या करें हमें भुलाना नहीं आता

 

Ruthna Mat Kabhi Hame Manana Nahi Aata,

Door Nahi Jana Hame Bhulana Nahi Aata,

Tum Bhool Jao Hame Tumhari Marzi,

Magar Hum Kya Kare Hame Bhulana Nahi Aata….!!!

kisi ko manane ke liye shayari



 

रूठे हुए को मनाना जिंदगी है दूसरों को हंसाना जिंदगी है कोई जीत कर खुश हुआ तो क्या हुआ सब कुछ हार कर मुस्कुराना जिंदगी है

 

Ruthe Hue Ko Manana Zindagi Hai,Dusro Ko Hasana Zindagi Hai,Koi Jeetkar Khush Hua To Kya Hua,Sab Kuch Har Kr Muskurana Zindagi Hai


 manane ke liye shayari

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया

आपने दुनिया के कहने पर हमें भुला दिया

तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में

क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया

 

Ho Sakta Hai Humne Aapko Kabhi Rula Diya

Aapne Duniya Ke Kehne Pe Humein Bhula Diya

Hum Toh Waise Bhi Akele The Iss Duniya Mein

Kya Hua Agar Aapne Ehsaas Dila Diya

manane ke liye shayari



 

ना तेरी शान कम होती ना रुतबा ही घटा होता

जो गुस्से में कहा तुमने वही हंसकर कहा होता

 

Na Teri Shaan Kam Hoti Na Rutba Hi Ghata Hota

Jo Gusse Mein Kaha Tumne Wahi Hans Ke Kaha Hota


manane wali shayari 

देखा है आज मुझे भी गुस्से की नजर से मालूम नहीं आज वह किस-किस से लड़े हैं

 

Dekha Hai Aaj Mujhe Bhi Gusse Ki Najar Se

Malum Nahi Aaj Woh Kis Kis Se Lade Hain

manane wali shayari



 

खता हो गई तो सजा सुना दो

दिल में इतना दर्द क्यों है वजह बता दो

देर हो गई है याद करने में जरूर

लेकिन तुमको भुला देंगे यह ख्याल दिल से मिटा दो

 

Khata ho gaayi to saza suna do,

dil mei itna dard kyun h wajah bata do.

Der ho gayi h yad karne me zarur,

lekin tmko bhula denge ye khayal dil se mita do.


 

बहुत ही उदास है कोई शक्स तेरे जाने से

हो सके तो लौट के जाओ कोई बहाने से

भले तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले

कोई बिखर गया है तेरे रुठ जाने से

 

Bahut hi udas hai koi Shakhs Tere jane se,

Ho sake to Lout ke aja koi Bahane se,

Bhale Tu Lakh khafaa Ho par ek bar to dekh le,

Koi Bikhar gaya hai Tere Rooth jane se..

manane wali shayari -2



 

आज कुछ कमी सी है तेरे बगैर

ना रंग ना रोशनी है तेरे बगैर

वक्त अपनी रफ्तार से चल रहा है

बस धड़कन थमी की है तेरे बगैर

 

Aaj kuch kami c hai tere baghair,

Na rang na roshni hai tere baghair,

Waqt apni raftaar se chal raha hai,

Bas dharkan thami c hai tere baghair..!!!


 

मैं भूला नहीं हूँ किसी को मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं ज़माने में

बस थोड़ी ज़िन्दगी उलझी हुई है दो वक़्त की रोटी कमाने में

 

main bhula nahin hun kisi Ko mere bahut acche Dost Hain jamane mein

Bus thodi jindagi uljhi Hui Hai do waqt Ki roti kamane mein

manane wali shayari -3



 

दावे दोस्ती के मुझे नहीं आते यारों

एक जान है जब दिल चाहे मांग लेना

 

Daave Dosti Ke mujhe nahin aate yaaron

ek Jaan Hai jab Dil chahe mang lena


 

तुम्हारे रूठ जाने के बाद भी,

तुम्हे मनाने का हुनर रखता हु,

अगर हमारे बीच कोई तीसरा ना हो तो,

सारी दुनिया से भीड़ जाने का जिगर रखता हु।

 

Tumhare rooth jane ke bad bhi

tumhen manane ka hunar rakhta hun

agar hamare bich koi teesra na ho to

sari duniya se Bhir jaane ka Jigar

manane wali shayari -4



 

हम रूठते हैं क्योकि तुम मानना जानते हो,

वरना इस मतलब से भरी दुनिया में,

हम यूँही हर किसी से रूठा नहीं करते।

 

ham Ruth jaate Hain kyunki Tum manana jante ho

Varna is matlab se Bhari duniya mein

Ham Yun hi har kisi se ruthe nahin karte


 

अगर इस तरह हर बात पर

जो तूं मुझसे रूठ जाएगी,

सच कहता हु याद रखना

मेरी तो दुनिया ही टूट जायगी।

 

Agar Is tarah har baat par

Jo tu mujhse Ruth jayegi

Sach kehta hoon yaad rakhna

Meri to duniya hi Tut jayegi

bf ko manane ke liye shayari-2



 

सितम सारे हमारे, छाँट लिया करों,

नाराजगी से अच्छा, डांट लिया करों !

 

Sitam sare hamare chhat liya karo

Narajagi se achcha dant liya karo


 

तुम रूठा करो हमसे,

हमारी दिल की धड़कन रुक जाती है,

दिल तो दोस्तों के नाम हम कर ही चुके है,

जान बाकी है वो भी निकल जाती है !

 

Tum rootha Na Karo humse

Hamari Dil Ki Dhadkan ruk jaati Hai

Dil to doston ke naam ham kar hi chuke hain

Jaan baki hai vah bhi nikal jaati Hai

bf ko manane ke liye shayari-3



 

एक रात खुदा ने मेरे दिल से पुछा,

तू दोस्ती में इतना क्यों खोया हैं,

दिल बोला दोस्तों ने ही दि हैं सारी खुशियाँ,

वरना प्यार करके तो दिल हमेसा रोया हैं,

 

Ek Raat khuda ne mere Dil se pucha

To dosti mein itna kyon khoya Hai

Dil bola doston ne hi di hai sari khushiyan

Varna pyar karke to dil hamesha roya hai


 

खीच कर उतार देते हैं उम्र कि चादर,

ये कमबख़्त दोस्त कभी बुढ़ा नहीं होने देते,

 

Khich kar utaar dete Hain umra ki Chadar

Yah kambakht dost kabhi Budha nahin hone dete

bf ko manane ke liye shayari-4



 

करनी है खुदा से गुज़ारिश,

तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी ना मिले,

हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,

या फिर कभी जिंदगी ना मिले,

 

Karni hai khuda se gujarish

Teri Dosti Ke Siva koi bandagi Na milaya

Har Janam mein mile Dost tere jaisa

Ja FIR kabhi jindagi Na mile


 

तुम्हारी यादों की खुश्बू मेरे रोम रोम में समाई है,

अब आप ही बताओ की इसकी दवाई कौन सी है।

 

Tumhari yadon Ki Khushboo mere room room mein samayi Hai

Ab aap hi batao ki iski dawai kaun si hai

bf ko manane ke liye shayari-5



 

यकीन हो तों,

सुबह सूरज से, रात को चांद से पूछ लेना,

ये दिल धडकता