Type Here to Get Search Results !

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

0
अगर आप sachai shayari in hindi ढूँढ रहे है तो आप सही वेबसाइट पे आय है,में आपको sachai ki shayari image के साथ दे रहा हु, आप एक दम सही वेबसाइट पे आय है, आप हमेशा sachai का साथ दे,

आज में आपको jeevan ki sachai shayari in hindi, waqt zindagi ki sachai shayari in hindi,  sachai shayari image, sachai quates in hindi, sachai shayari in hindi 2 line जेसी shayari  में आज आपको दे रहा हु,

आप इस shayari को अपने whatsapp, facebook पर अपने दोस्तों के साथ share कर सकते|

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

सफ़र ख्वाब बेगाने है, ख्यालों से सिकायत कैसी 

क्या गुरुर करे अपनी हथेली पर 

जो मेरा था ही नहीं उसकी नाराजगी कैस 


दूसरों की नज़रों में खुद की तलाश ना कर
जिन्हें खुद की औकात नहीं पता
वि ही तुझे जज करेंगे

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

 

मायने ज़िन्दगी के बदल गये अब तो,
कई अपने मेरे बदल गये अब तो,
करते थे बात आँधियों में साथ देने की..
हवा चली और सब मुकर गये अब तो।


दो चेहरे इंसान कभी नहीं भूलता,
एक मुश्किल में साथ देने वाला ,
और दूसर मुश्किल में साथ छोड़ने वाला।

 Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

अगर आपको खुद पर भरोसा नहीं है,

तो आप किसी पर भी भरोसा नहीं कर सकते।


पलटकर जबाव देना बेशक गलत बात है,

लेकिन सुनते रहो तो लोग बोलने की हद भूल जाते है।

 Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

मैंने जिंदिगी की गाड़ी से वो

साइड ग्लास ही हटा दिए,

जिसमे पीछे छूटते रस्ते और

बुराई करते लोग नजर आते थे..


ज़िन्दगी कभी आसन नही होती

इसे आसान करना पड़ता है कुछ

नजर अंदाज करके कुछ को

बर्दास्त करके..

 

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

अगर आप बहुत सारी मुसीबतों से गुजर रहे हो,

तो एक बात हमेशा याद रखें कि सितारे कभी अँधेरे के बिना नहीं चमकते।

 

अपनी जुबान की ताकत उन माँ-बाप पर कभी मत आजमाओ जिन्होंने आपको बोलना सिखाया है।

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi 


भरोसा टूटने की आवाज नहीं होती,

लेकिन गूंज जिंदगी भर सुनाई देती है


किसी ने क्या खूब कहा है, सम्भल कर चल नादान,

ये इंसानो की बस्ती है, ये तो खुद को भी आज़मा लेते हैं, फिर तेरी क्या हस्ती है।

 Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

जिंदगी की कड़वी सच्चाई, की लोग हमारी कदर तब करने लगते हैं,

जब हम उन्हें नज़रंदाज़ करने लगते हैं।


खेल है जिंदिगी,आँख मिचौली का..
मजबूरियाँ  छिपी है,हर काम के पीछे।

स्वार्थ छिपा है,हर सलाम के पीछे।

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi 

गुरूर किस बात का है साहिब,
मरने के बाद
तेरे अपने भी छूकर हाथ धोयेंगे

 

ज़िन्दगी का मामला भी अजीब है साहब,
ठोकर देकर संभालना सिखाया !!

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi 

ज़िन्दगी के हर एक पल को खुबसूरत बनाइये,
जितना सहन करेंगे उतना मजबूत बनेंगे !!

 

उन्हें क्या पता की बेबसी क्या होती है

जिन्होंने कभी दिलों का टूटना नहीं देखा


Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

टुकड़ों का अंदाजा तो बस उन्हें ही होता है

जिन्होंने देखा है कभी आईना टूटा हुआ|

 

हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर,

तुझ पर ज़रा भी ज़ोर होता मेरा,

ना रोते हम यूँ तेरे लिये.अगर हमारी

ज़िन्दगी में तेरे सिवा कोई ओर होता..

Sachai Shayari in Hindi - Waqt Zindagi Ki Sachai Shayari in Hindi

Apko hamari sachai shayari in hindi kesi lagi isse apne dosto ke sath share karna na bhule.

 

 

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ