Type Here to Get Search Results !

Rishte Nibhane Wali Shayari | Rishte Nibhane Wali Shayari Photo

0

 अगर आप rishte nibhane wali shayari ढूँढ रहे है तो आप एक दम सही वेबसाइट पे आय है, दोस्तों rishte nibhana बहुत जरूरी होता है, जितना हो सके रिश्तो को टूटने न दे, आज में आपको इसी से जुडी कुछ shayari दूंगा ,rishte nibhane wali shayari in hindi , rishte nibhane wali shayari photo आप इन shayari को अपने दोस्तों के साथ share कर सकते है और अपने whatsapp और facebook पे भी share कर सकते है

रिश्ते निभाना हर किसी के बस की बात नहीं अपना दिल भी दुखाना पड़ता है किसी और की ख़ुशी के लिए
कुछ रिश्ते जिंदगी में सैलाब लाते हैं कुछ रिश्ते जिन्दगी में बदलाव लाते हैं पर कुछ रिश्ते जिन्दगी में एक ठहराव लाते हैं

छुपे-छुपे से रेहते हैं सरेआम नही होते कुछ रिशते सिर्फ अहसास हैं उनके नाम नही होते

रिश्ता तब टूटता है जब किसी एक को भी रिश्ते निभाने की चाहत नहीं रहती

Rishte Nibhane Wali Shayari | Rishte Nibhane Wali Shayari Photo 

रिश्तों को शिकायते नही समझदार बनाएँ रखती है

खुशी में नहीं तो कोई बात नहीं पर मुश्किल घड़ी मे अपनों के साथ होना चाहिए


Rishte nibhane wali shayari in hindi
कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते हर कदम पर काँच बन कर जख्म देते हैं

जहां गुंज़ाइशें हैं वहीं हर रिश्ता ठहरता है आज़माइशें अक्सर रिश्ते तोड़ देती है

Rishte Nibhane Wali Shayari | Rishte Nibhane Wali Shayari Photo

होश का पानी छिड़को मदहोशी की आँखों पर अपनों से कभी ना उलझो गैरों की बातों पर

पल पल के रिश्ते का वादा है आपसे अपनापन कुछ इतना ज्यादा है आपसे ना सोचना की भूल गए हम आपको जिंदगी भर चाहेंगे ये वादा है आपसे

करीब इतना रहो की रिश्तों में प्यार रहे दूर भी इतना रहे की आने का इंतजार रहे रखो उम्मीद रिश्तो के दरमियान इतनी की टूट जाये उम्मीद मगर रिश्ते बरक़रार रहे

खामोश चेहरे पर हजारों पहरे होते है हंसती आँखों में भी जख्म गहरे होते है जिनसे अक्सर रूठ जाते है हम असल में उनसे ही रिश्ते गहरे होते है

Rishte Nibhane Wali Shayari | Rishte Nibhane Wali Shayari Photo

मुलाकातें बहुत जरूरी हैं अगर रिश्ते निभाने हैं लगाकर भूल जाने से तो पौधे भी सूख जाते हैं

जब भी हो थोड़ी फुरसत मन की बात कह दीजिये बहुत ख़ामोश रिश्ते ज़्यादा दिनों तक ज़िंदा नहीं रहते

कभी कभी हम किसी को यादो में पूरी रात जागते रहते है और उन्हें हमारी कदर तक नही होती

रिश्ता होने से रिश्ता नहीं बनता रिश्ता निभाने से रिश्ता बनता है

Rishte Nibhane Wali Shayari | Rishte Nibhane Wali Shayari Photo

खुदा से हमारा रिश्ता भी चश्मे और निगाह सा है वो जब साथ होता है सब कुछ साफ़ नज़र आता है

खुद के इस हुनर को जरूर आजमाना जब जंग हो अपनो से तो हार जाना

निकाल से जिस्म से जो अपनी जान देता हैं बड़ा ही मजबूत है वो पिता जो कन्यादान देता हैं
Rishte Nibhane Wali Shayari | Rishte Nibhane Wali Shayari Photo


Apko hamari rishte nibhane wali shayari kesi lagi agr acchi lagi to apne dosto ke sath share karna na bhule!

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ