Type Here to Get Search Results !

Bhul Gaye Kya Shayari | Bhul Gaye Kya Status | Bhul Gaye Kya Mujhe Shayari

0

 
आज हम आपके लिए लेकर आयें Bhul Gaye Kya Shayari| आज हम आपको एक से एक बढ़कर shayari देंगे| ये shayari आप उन लोगों को भेज सकते हैं जो आपको भूल गए हैं|

तो अगर आप bhul gaye kya status, bhul gaye kya shayari dp, bhul gaye kya mujhe shayari dp सर्च कर रहे हैं तो आप हमारी शायरी को पढ़ सकते हैं|

अगर आपको हमारी शायरी अच्छी लगती हैं तो आप इन्हें अपने दोस्तों के साथ भी share कर सकते हैं|
 

रात क्या हुई रौशनी को भूल गए चाँद क्या निकला सूरज को भूल गए आपको SMS नहीं किया तो क्या आप हमें याद करना भूल गए

मेरी बर्बादी पर तू कोई मलाल न करना भूल जाना मेरा ख्याल न करना हम तेरी ख़ुशी के लिए कफ़न ओढ़ लेंगे पर तुम मेरी लाश से को सवाल मत करना

जिन यादों को आज आप भूल गएँ उन्ही यादों को याद कर बार बाद रोया हूँ तेरे भूल जाने के बाद भी आज तक मैं उन्ही यादों में खोया हूँ

आप भूल गए हमें लेकिन हम नहीं भूले याद करते हैं हर पल बीते हुए जिंदगी के कुछ पल

Bhul Gaye Kya Shayari

वो अपनी जिंदगी में हो गए मसरूफ इतने की किस किस को भूल गए अब उन्हें याद भी नहीं

हाँ हाँ उसकी यादें अब मुझमे बाकी है पर वो मुझे भुला गए अब बस उनकी यहीं खता रुलाती है

वो अपनी जिंदगी में इतना मशरूफ हैं की वो हमें भूल भी गए और उन्हें याद भी नहीं

Bhul Gaye Kya Shayari

भूलना तो ज़माने की रीत है मगर तुमने शुरुआत हमसे क्यों की

कितना तलाशा इस दिल ने प्यार इसके पाँव के चाले दिखते नहीं सब कुछ दफन है इसमें वो एहसास भी जो हम लिखते नहीं

माना आपको प्यार की कदर नहीं थी मगर दिल तो रख लिया होता इतनी जल्दी भूल गए उस प्यार को अरे थोडा सब्र तो कर लिया होता

तुम भी कर के देख लो मोहब्बत किसी से जान जाओगे की हम मुस्कराना क्यों भूल गए

Bhul Gaye Kya Shayari

तुम भूल गए मुझे चलो अच्छा ही हुआ किसी एक की रातें तो सुकून से गुजरें

लम्बी है मंजिल दूर है किनार क्यों नहीं आता अब मेसेज तुम्हारा भूल गए नाम या नंबर हमारा

 
माना मेरे खातिर तुम मुझसे दूर हो गए और दूर जाकर अपने में मशरूफ हो गए इतने की अब मेरा नाम भी भूल गए

Bhul Gaye Kya Shayari

 जानते थे हम की तुम हमें भूल जाओगे पर ये नहीं जानते थे की ये दिन तुम इतनी जल्दी लाओगे

जो मुझे भूल गए उन्हें याद करना मैं भी जरुरी नहीं समझता

 
भूल गए वो दिन भी क्या दिन थे जब मैंने आपको फूल दिया था और आपने थप्पड़ के साथ मुझसे प्यार का इजहार किया था

 
तुम बनके दोस्त ऐसे आए जिंदगी में की हम जमाना ही भूल गए तुम्हे याद आये न आये हमारी कभी पर हम तो तुम्हे भूलना ही भूल गए

 
Bhul Gaye Kya Shayari

मालूम होता है भूल गए हो शायद या फिर कमाल का सब्र रखते हो

दूर दूर कर कुछ दोस्त अपनी ही औकात दिखा रहे हैं चाहत के चक्कर में कुछ दोस्त अपनों को भुला रहे हैं

 
भुला कर हर भूल सब भूल जाओ तुम भूल कर भी ना भूल सके ऐसे दोस्त बनाओ तुम

 
हमें कमेन्ट करके जारूर बताइए की आपको हमारी bhul gaye kya shayari कैसी लगी
 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ